Tirupati Balaji New report after lockdown, donation of 1 crore rupees a day, variety of every day visits reached 15 thousand | लॉकडाउन के बाद नया रिकॉर्ड, एक दिन में 1 करोड़ रुपए का दान मिला, रोजाना दर्शन करने वालों की संख्या 15 हजार तक पहुंची

  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Tirupati Balaji New Record After Lockdown, Donation Of 1 Crore Rupees A Day, Number Of Daily Visits Reached 15 Thousand

three घंटे पहलेलेखक: नितिन आर. उपाध्याय

  • कॉपी लिंक
  • 11 जून को कोविड-19 की गाइडलाइंस के साथ शुरू हुए थे दर्शन
  • खुलने के बाद मंदिर ट्रस्ट के 750 से ज्यादा कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव भी हुए
  • पूर्व मुख्य पुजारी की कोरोना से मौत भी हुई, लेकिन ना भक्तों का आना रुका, ना मंदिर बंद हुआ

आंध्रप्रदेश के तिरुपति बालाजी मंदिर में भक्तों की रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। हर दिन दर्शन करने वालों की संख्या अब 15 हजार तक पहुंच गई है। रविवार, 6 सितंबर को मंदिर में लॉकडाउन हटने के बाद पहली बार एक दिन में रिकॉर्ड एक करोड़ का दान भी आया। अभी तक दान का औसत एक दिन में 50 से 60 लाख के बीच में था, लेकिन 28 अगस्त के बाद से दर्शन करने वालों की संख्या और दान की राशि दोनों में उछाल आया है।

बहरहाल, ये राशि अभी भी कोरोना काल से पहले आने वाले दान के आधे से भी कम है, लेकिन इस मुश्किल दौर में भी लोगों की मंदिर के प्रति आस्था देखकर ट्रस्ट काफी उत्साहित है। ट्रस्ट को उम्मीद है कि इस साल के अंत तक परिस्थितियां काफी सुधर जाएंगी, मंदिर में श्रद्धालुओं की संख्या और बढ़ेगी।

कोरोना के चलते 20 मार्च को मंदिर आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया था। करीब 80 दिन बाद 11 जून को फिर दर्शन शुरू हुए। हालांकि, मंदिर eight जून को ही खोल दिया गया था, लेकिन पहले तीन दिन केवल मंदिर के कर्मचारी और उनके परिवारों के लिए ही दर्शन की इजाजत थी। 11 जून को दर्शन खुलते ही करीब 43 लाख रुपए का दान एक दिन में आया था, उस दिन 6000 लोगों ने दर्शन किए थे।

28 अगस्त से 6 सितंबर तक श्रद्धालु और दान का लेखा-जोखा

दिन श्रद्धालु दानराशि
28 अगस्त 2020 7,822 67 लाख
29 अगस्त 2020 9,486 57 लाख
30 अगस्त 2020 11,875 86 लाख
31 अगस्त 2020 11,036 78 लाख
1 सितंबर 2020 10,931 77.5 लाख
2 सितंबर 2020 11,641 90 लाख
three सिंतबर 2020 11,885 72 लाख
Four सितंबर 2020 10,722 71 लाख
5 सितंबर 2020 13,486 71.5 लाख
6 सितंबर 2020 15,226 1.02 करोड़

मार्च में हर दिन करोड़ों का दान
19 मार्च को जब लॉकडाउन नहीं था, तब 42 हजार लोगों ने दर्शन किए थे और उस दिन करीब 2.24 करोड़ रुपए का दिन मिला था। 11 से 19 मार्च तक हर दिन करीब 2 करोड़ रुपए का दान आ रहा था। 1 से 10 मार्च के बीच रोजाना लगभग 50 से 60 हजार लोगों ने दर्शन किए थे और हर दिन दान का आंकड़ा three करोड़ रुपए से ज्यादा रहा।

तिरुपति बालाजी मंदिर को भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है। मंदिर के पास इस समय 1400 करोड़ का कैश डिपॉजिट और लगभग 8 टन सोना है।

तिरुपति बालाजी मंदिर को भारत के सबसे अमीर मंदिरों में से एक माना जाता है। मंदिर के पास इस समय 1400 करोड़ का कैश डिपॉजिट और लगभग eight टन सोना है।

इस साल Four दिन ऐसे भी जब Four करोड़ से ज्यादा दान
2020 में Four दिन ऐसे भी रहे हैं, जब मंदिर में दान की राशि एक दिन में रिकॉर्ड Four करोड़ से ज्यादा रही है। 19 फरवरी को सबसे ज्यादा 4.41 करोड़ रुपए का दान मंदिर को एक दिन में मिला। 24, 26 जनवरी और 19, 28 फरवरी को Four करोड़ रुपए एक दिन में मिले हैं। जनवरी का भी एवरेज दान three करोड़ रुपए था।

लॉकडाउन खुलने के बाद 750 से ज्यादा कोरोना केस
11 जून को मंदिर खुलने के बाद से ही ये बहस भी शुरू हुई कि मंदिर खोलना आवश्यक है भी या नहीं। मंदिर खुलते ही ट्रस्ट के कर्मचारियों की रिपोर्ट्स पॉजिटिव आना शुरू हुईं। जून में करीब 80 कर्मचारी संक्रमित थे, जिनकी संख्या अगस्त आते-आते 750 के करीब हो गई। लेकिन, ना मंदिर में दर्शन बंद हुए और ना भक्तों का आना।

इस दौरान मंदिर के पूर्व मुख्य पुजारी की कोरोना से मौत भी हो गई। मंदिर ट्रस्ट के कुल 21 हजार कर्मचारी हैं। कोरोना गाइड लाइन के चलते 60 साल से अधिक के कर्मचारी और पुजारियों को मंदिर में नहीं आने दिया जा रहा है। सुखद बात ये रही कि मंदिर में इतने कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी एक भी श्रद्धालु संक्रमित नहीं हुआ।

0

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here